Activity: Cutting, Sticking and Gluing

Activity: Cutting, Sticking and Gluing

The children are benefited from this activity as they are learning to cut with scissors which will develop the children’s hand – eye coordination, fine motor skills. When using the scissors remember to direct the children to hold them correctly i.e. thumb at the top and forefinger at the bottom, this will sit comfortably and the children will gain suitable scissor control. Once all the cutting is completed spread the glue onto the paper and stick the cut out pieces on the glue.

 

 

Benefits of Arts and Craft in Early Education

Benefits of Arts and Craft in Early Education

If you are on the lookout for new activities to engage your child, here is why you should consider arts and crafts.

Be it making miniature statues from clay or colouring with crayons, folding papers expertly to make origami shapes or preparing a hand-made birthday card, there are numerous arts and craft activities that can spike your child’s interest and tap his/her artistic potential. By introducing your child to arts and crafts or encouraging him/her to take it up in school, you will sow the seeds for his physical, social and cognitive development.

      

 

 

The main objective of starting NCC training in schools

 

The main objective of starting NCC training in schools

The main objective of starting NCC training in schools is to give the youth an opportunity to experience the military life. It’s crucial to train them early in school and make them strong physically, healthy and well-prepared for any war-like situation. Thus, NCC is an excellent option to choose from in school, given its obvious advantages.

Firstly, if your dream is to join the army, there is nothing better you can do in school than to join NCC. Secondly, even if you do not want to opt for the armed forces, NCC prepares you physically and mentally. It makes you learn many things, which otherwise you won’t get a chance to in life. Discipline, basic arms training, team ethics, following orders, various kinds of physical activities, sports, tours to remote areas, etc. are some of the things you experience and learn in NCC. These lessons are invaluable and make the journey of learning beautiful. You get familiar with varied leadership traits, develop communication skills and build courage and confidence. Other than all this, NCC makes one a better citizen. You get to interact with people from different states and break free from the linguistic barrier.

Thumb and Finger Painting

Finger and Thumb painting Activity at Jimp Pioneer School

Simple art, such as finger painting, seems like child’s play — and it certainly is — it is also a teaching tool that can help preschoolers build motor skills and more. Finger painting may seem easy, but it can involve complex movements of the hand that can build hand-eye coordination, muscle control and dexterity.
Finger painting activities allow the young child to work with the medium, moving it around, blending it and creating anything from an abstract expression to a family portrait to explore their own creativity.
Finger printing isn’t just an art activity at  Jimp Pioneer School. If you think that your child’s preschool finger printing activity will only build up his artistic abilities, think again! The early childhood JImp Pioneer School’s educator used finger & thumb printing to teach other content areas. Kids at Jimp Pioneer School used this messy medium along with a subtractive method, to make shapes in the paint and let the paper underneath show through. Preschooler experimented with colours , mixing by blending the primaries — red, blue and yellow — with their fingers & thumb……enjoying each moment with glee!

           

Dussehra Fete celebrated at Jimp Pioneer School

दिनांक 17-10-2018 को जिम्प पायनियर  सीनियर सेकंडरी स्कूल ग्राम-पीतांबरपुर आर्केडिया-ग्रान्ट,देहरादून में  दशहरा मेले का आयोजन किया गया |कक्षा -12 के विद्यार्थियों द्वारा 35 फीट ऊंचा  रावण बनाया गया |इस अवसर पर विभिन्न पकवानों के स्वादिष्ट व्यंजन बनाए गए |दशहरा मेले में विद्यार्थियों के साथ अभिभावकों ने भी भाग लिया |विद्यार्थियों द्वारा वेस्ट मेटीरियल से बनाए गए क्राफ्ट वर्क की प्रदर्शनी लगाई गयी जिसकी अभिभावकों ने बहुत प्रशंसा की | इस अवसर पर जिम्प पायनियर स्कूल के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय ने  विद्यार्थियों को दशहरा पर्व  की शुभकामनायें देते हुए कहा कि दशहरा का पर्व काम, क्रोध, लोभ, मोह, मद, मत्सर, अहंकार, आलस्य, हिंसा और चोरी के परित्याग की प्रेरणा  प्रदान करता है | इस तरह दशहरा आनंद का त्योहार है और यह हममें जीवन के प्रति नया उत्साह भरता है, मेले  भारत की संस्कृति को प्रदर्शित करते हैं  मेलों के कारण लोग एक दूसरे से उत्साह से मिलते हैं और कुछ समय आनंद के साथ व्यतीत करते हैं|

विद्यार्थियों में अभिषेक चौधरी कक्षा-12 विज्ञान वर्ग स्कूल केप्टन  (राम के पात्र ) द्वारा रावण के पुतले पर तीर चलाकर दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर  रावण के पुतले का दहन किया गया |अन्य पात्रों में  मंदीप गैरोला कक्षा-10 (हनुमान के पात्र ) द्वारा रावण की लंका का दहन किया गया|

आदित्य रावत कक्षा-12 विज्ञान वर्ग ने लक्ष्मण के पात्र का अभिनय किया | इस अवसर पर विद्यालय के सभी शिक्षक-शिक्षिकाएँ उपस्थित थे |

Jimp Pioneer School students participated in different activities held at Jaswant Modern Senior Secondary School

जिम्प पायनियर सीनियर सेकंडरी स्कूल ग्राम-पीतांबरपुर,आर्केडिया-ग्रान्ट देहरादून के विद्यार्थियों ने जसवंत मॉडर्न सीनियर सेकंडरी स्कूल राजपूर रोड देहरादून में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लिया :-

1-कक्षा -12 के विद्यार्थियों के साथ अद्यापक श्री नरेश राठोर, अद्यापिका श्रीमती शालिनी ने “केरियर काउन्सेलिंग” कार्यक्रम में भाग लिया| काउंस्लर व सायकोलोजिस्ट  डॉक्टर रविन्द्रन ने विद्यार्थियों को बताया कि सफलता के लिए आवश्यक है सटीक निर्णय|सफलता एवं निर्णय के बीच निकट का रिश्ता है। आपका निर्णय ही आपकी सफलता का मार्ग प्रशस्त करता है। अधिकतर लोगों के असफल होने का सबसे बड़ा होता है उनका ठीक समय पर ठीक निर्णय न ले पाना। ‘निर्णय’ को निरंतर टालते रहना अपने में सफलता के मार्ग की सबसे बड़ी बाधा बनता है। ठीक समय पर लिया गया निर्णय ही आपको मंजिल तक पहुँचाएगा।

2-कक्षा-3 के विद्यार्थियों रक्षित पाण्डेय, आदित्य रावत, योगेंदर नेगी , पारस ममगाई ,साक्षी बिष्ट , गुंजन चरन , अंजली चौहान ,वैभवी रोड़े ने कंटेम्प्रेरी डांस में भाग लिया |

3-कक्षा-11 के विद्यार्थियों विनोदिनी पाण्डेय व हेमलता ममगाई ने केलिग्राफी कंपटीशन में भाग लिया|

4-निश्चय जोशी (कक्षा-9), आयुष चौहान (कक्षा-10), शिवानी शर्मा (कक्षा-11), अभिषेक चौधरी (कक्षा-12) ने न्यूमेरिकल अबिलिटी टेस्ट में भाग लिया|

5-कक्षा-2 के विद्यार्थियों कीर्ति जोशी व आरुषि बंगवाल ने अँग्रेजी व हिन्दी लेखन प्रतियोगिता में भाग लिया|

6- कक्षा-2 के विद्यार्थियों मन्नत राणा व आयुषी भण्डारी ने स्पेल-बी प्रतियोगिता में भाग लिया|

7-के0जी0 कक्षा के ऋषभ चौहान व दक्ष राणा ने कलरिंग प्रतियोगिता में भाग लिया|

8-कक्षा-1 के गौरव चंडोला व अंकित ने ऑन द कलरिंग प्रतियोगिता में भाग लिया|

9- कक्षा-4 की छात्रा पृशा राणा ने एकल गायन प्रतियोगिता में भाग लिया व कलासिकल  राम भजन गाया |

10-रजनीश कुमार (कक्षा-6), निखिल भट्ट (कक्षा-7),मोनिका गुसाई (कक्षा-8 ) ने जनरल क्विज प्रतियोगिता में भाग लिया|

11- कक्षा-5 के विद्यार्थियों अनुज नेगी,दिया, रिया कुमारी,कीर्ति, अर्चित पाण्डेय ने “माँ और भगवान “ विषय पर आयोजित कविता प्रतियोगिता में भाग लिया|

कक्षा-2 की छात्रा कीर्ति जोशी,कक्षा-4 की छात्रा पृशा राणा,कक्षा-11 की छात्रा विनोदिनी पाण्डेय को पुरस्कार दिये गए |

इस अवसर परजिम्प पायनियर सीनियर सेकंडरी स्कूल के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय ने बताया कि पाठ्य सहगामी क्रियाएं विद्यार्थी जीवन के लिए महत्वपूर्ण है और इन्हीं के माध्यम से छात्र अपनी प्रतिभा को सभी के सामने ला पाता है।पाठ्य सहगामी क्रियाएं विद्यार्थियों को अच्छा नागरिक बनने का प्रशिक्षण देती हैं । ऐसी गतिविधियाँ विद्यार्थियों को स्कूल में व्यस्त रखती है। पाठ्य सहगामी क्रियाएं शिक्षण में श्रेष्ठ स्थान रखती है और विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास में पूरा-पूरा योगदान देती है। इनमें शामिल होकर विद्यार्थी अपने गुणों की क्षमता से आगे निकलकर विकास करता है। उनमें आत्मनिर्भरता आती है। वे किसी भी कार्य को पूर्ण करने के लिए सक्षम बनते है।अत: जिम्प पायनियर सीनियर सेकंडरी स्कूल में विद्यार्थियों के व्यक्तित्व विकास के विभिन्न पहलुओं को विकसित करने के लिए   पाठ्य सहगामी क्रियाएँ कराई जाती है और शहर के प्रतिष्ठित विद्यालयों में भी विद्यार्थियों को भेजा जाता है |

  

 

 

Swachata hi seva

जिम्प पायनियर स्कूल ग्राम-पीतांबरपुर आर्केडिया-ग्रान्ट प्रेमनगर देहरादून में वासुदेव कुटुम्ब संस्था देहरादून के सहयोग से “स्वच्छता ही सेवा” विषय पर एक पेंटिंग प्रतियोगिता आयोजित की गयी | इस प्रतियोगिता में कक्षा छ: व सात के सभी विद्यार्थियों ने भाग लिया | इस प्रोग्राम के आयोजन में मुख्य भूमिका जिम्प पायनियर स्कूल की शिक्षिका श्रीमती मंजीत भारद्वाज व वासुदेव कुटुम्ब संस्था देहरादून के सदस्य श्रीमती अंजलि थापा (प्रबन्धक वासुदेव कुटुम्ब संस्था देहरादून) व श्री राजा राम ( कम्प्युटर इंजीनियर वासुदेव कुटुम्ब संस्था देहरादून ) ने निभाई| विद्यार्थियों ने “स्वच्छता ही सेवा” के अंतर्गत निम्नवत पेंटिंग बनाई:- 1-साफ हो सुंदर हो ऐसा मेरा भारत देश हो| 2-सम्पूर्ण स्वच्छता पाइए निर्मल ग्राम पुरस्कार पाइये | 3-आओ एक कदम बड़ाएं भारत को स्वच्छ बनायें | 4-बापू का एक ही सपना स्वच्छ और सुंदर हो भारत अपना | 5-हम सबका एक ही नारा साफ सुथरा हो देश हमारा| 6-स्वास्थ्य का कोई मोल नहीं| 7-स्वच्छता में ईश्वर बसा होता है| 8-स्वच्छता मनुष्यता का गौरव | 9-देश है सबका बड़ाओ स्वच्छता अभियान | 10-स्वच्छ रहें – स्वस्थ रहें| 11- एक नया सवेरा लायेंगे पूरे भारत को स्वच्छ और सुंदर बनाएँगे| इस अवसर पर जिम्प पायनियर स्कूल के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय ने बताया कि हमें कभी भी खुद की संपत्ति और सार्वजनिक सम्पति में भेदभाव नहीं करना चाहिए। बस स्टॉप, बाग, अस्पताल, दफ्तर और स्कूल को अपना समझकर साफ़ सुथरा रखने की कोशिश करनी चाहिए।अगर सभी सार्वजनिक जगह साफ़ सुथरी रहेगी तो सभी का स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा और इसका अप्रत्यक्ष रूप से यह परिणाम होगा कि हमारे देश की अर्थव्यवस्था और भी अधिक मजबूत होगी।