Jimp Pioneer School students made their names medal.

दिनांक 21 व 22 दिसम्बर 2018 को एस0जी0जी0आर0 सहसपुर देहरादून में आयोजित खेल महाकुंभ में जिम्प पायनियर स्कूल ,ग्राम-पीतांबरपुर,आर्केड़िया-ग्रांट,देहरादून के विध्यार्थियों ने U-14 में कांस्य पदक हासिल किया| पहले मैच में जिम्प पायनियर स्कूल के विध्यार्थियों ने हरिपुर बॉयज़ को 2-1 से मात दी और दूसरे मैच में एस0पी0एस0 सेलाकुई स्कूल को 1-0 से हराया | विध्यार्थियों ने शंकरपुर शिवालिक अकादेमी से 1-0 से जीत हासिल की |सूरज मण्डल कक्षा 9 वीं के छात्र ने U-14 में 600 मीटर रेस में सिल्वर मेडल प्राप्त किया | इसमें कांस्य पदक जीतने वाले विध्यार्थी निम्न हैं:- विध्यार्थी का नाम कक्षा आर्यन गुरुंग 9 वीं प्रियान्शु थापा 9 वीं रोहित कुनियाल 9 वीं सचिन रावत 9 वीं अनुज यादव 9 वीं अभय डिमरी 8 वीं सचिन बिष्ट 8 वीं मोहित जोशी 7 वीं सौरभ रावत 9 वीं शुभम ममंगाई 8 वीं धीरज सिंह 8 वीं रोहित नेगी 8 वीं अभय सिंह 10 वीं दिनांक 23 व 24 दिसम्बर को U-17 प्रतियोगिता में रोहन सेमवाल कक्षा 10 वीं के छात्र ने 3000 मीटर रेस में सिल्वर पदक व 1500 मीटर रेस में कांस्य पदक प्राप्त किया | अंकुश कक्षा 11 वीं के छात्र ने 3000 मीटर रेस में कांस्य पदक प्राप्त किया |यह प्रतियोगिता एस0जी0आर0आर0 सहसपुर में हुई| इस खुशी के अवसर में जिम्प पायनियर स्कूल ,ग्राम-पीतांबरपुर,आर्केड़िया-ग्रांट,देहरादून के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पांडे ने विध्यार्थियों को सम्मानित किया व उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए कहा की विध्यार्थी को पढ़ाई के साथ साथ खेलकूद में भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेना चाहिए व अन्य विध्यार्थियों को भी आगे आकर प्रतिभाग करना चाइए| विध्यार्थियों ने अपनी जीत का श्रेय कोच विजय सिंह व प्रवीन पुरोहित को दिया|

Annual Function 2018

जिम्प पायनियर स्कूल ,ग्राम-पीतांबरपुर,आर्केड़िया-ग्रांट,देहरादून में दिनांक 19-12-2018 को वार्षिकोत्सव दिन के 4 बजे से रात 8 बजे तक बहुत धूमधाम से मनाया गया | जिसमें विध्यालय के सभी छात्र व छात्राओं ने बढ़ चढ्कर हिस्सा लिया | कार्यक्रम के प्रारम्भ में विध्यालय की शिक्षिका श्रीमति ज्योति गुप्ता ने विद्यालय की सभी उपलब्धियों को अभिभावकों के सामने एलईडी डिस्प्ले द्वारा प्रस्तुत किया| सभी शिक्षक व शिक्षिकाओ द्वारा मुख्य अतिथि आदरणीय श्री सहदेव सिंह पुंडीर एम0 एल0 ए0 सहसपुर विधानसभा, देहरादून व चेयरमेन श्री के0 एन0 जोशी का स्वागत किया| मुख्य अतिथि आदरणीय श्री सहदेव सिंह पुंडीर एम0 एल0 ए0 सहसपुर विधानसभा व विध्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय तथा चेयरमेन श्री के0 एन0 जोशी ने दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया| कक्षा 11 की छात्रा विनोदिनी पांडे द्वारा वैल्कम सॉंग प्रस्तुत किया गया | कक्षा 3 के विद्ध्यार्थियों द्वारा गणेश वंदना पर नृत्य प्रस्तुत किया गया | प्ले ग्रुप, नर्सरी व के0 जी0 कक्षा द्वारा चॉको-चॉको गीत पर नृत्य प्रस्तुत किया गया, उसके बाद कक्षा 1 के विद्ध्यार्थियों द्वारा जुम्बा डांस प्रस्तुत किया गया | कक्षा प्ले ग्रुप, नर्सरी व के0 जी0 द्वारा मिक्की- मिक्की गीत में नृत्य प्रस्तुत किया गया | विध्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय ने कहा कि अभिभावकों को सच्चे मित्र के समान बच्चे के समक्ष होना चाहिए। आज माता-पिता के समक्ष बच्चों के केवल पालन-पोषण की जिम्मेदारी नहीं अपितु एक सच्चे मित्र, अच्छे शिक्षक, अच्छे अभिभावक और सच्चे नागरिक के रूप में आने की आवश्यकता है। बच्चों का संसार उनके अभिभावकों से शुरू होता है। वे उनके प्रथम शिक्षक होते हैं। बच्चे घर से ही जीवन का पहला पाठ पढ़ते हैं। अगर हमारा परिवेश घर का वातरवरण स्वस्थ होगा तो बच्चों को अच्छे संस्कार मिलेंगे। माता-पिता का मधुर संबंध बच्चों में समरसता घोलता है। बच्चों में प्रसन्नता, उल्लास, उमंग, जोश लाता है। कक्षा 6 व कक्षा 9 द्वारा फिल्मीसफरनामा पुरानी फिल्मों से नयी फिल्मों के को दिखाया गया| कक्षा 5 के विध्यार्थियों ने रानी लक्ष्मी बाई को श्रद्धांजलि देते हुए उनके बलिदानो को एक नृत्य के रूप में प्रस्तुत किया हैं कक्षा 7 के विध्यार्थियों ने राजस्थान की परंपरा को दर्शाते हुए एक राजस्थानी नृत्य प्रस्तुत किया हैं | इसके पश्चात आदरणीय अतिथि श्री सहदेव सिंह पुंडीर द्वारा छात्र-छात्राओं व अध्यापकों को पुरस्कृत किया गया | कक्षा 2 दवारा बम्बू नृत्य प्रस्तुत किया गया और मिज़ोरम की संस्कृति का उल्लेख किया गया| कक्षा 4 ने पंजाबी नृत्य प्रस्तुत कर पंजाब के संस्कृति को प्रस्तुत किया |कक्षा 12 के विध्यार्थियों ने कुमाऊँनी गीत पर नृत्य प्रस्तुत किया और उसकी संस्कृति को बताते हुए दर्शाया गया की धार्मिक गीतों में पौराणिक आख्यानों वाले गीतों का प्रथम स्तर रखती हैं कुमाऊँनी संस्कृति | अतः एक कामेडी नाटक प्रस्तुत किया गया | कक्षा 10 ने कई गीतो को मिलाकर एक नृत्य प्रस्तुत किया | कक्षा 11 द्वारा एक नेपाली नृत्य प्रस्तुत किया गया जिसमे उन्होने भारत ही नही अपितु नेपाल के संस्कृति को भी बखूबी दर्शाया | कक्षा 8 द्वारा एक सरपराइज़ नृत्य प्रस्तुत किया गया | कक्षा 11 द्वारा हॉरर नृत्य प्रस्तुत किया गया अतः कक्षा 12 के विध्यार्थियों द्वारा पांडव नृत्य प्रस्तुत किया गया | कार्य का समापन ग्रांड फ़ीनाले से किया गया जिसमे सभी परम्पराओ व संस्कृति को एकत्रित कर एक सम्पूर्ण भारत के रूप में प्रस्तुत किया गया | उसके उपरांत विद्यालय में अभिभावकों , विद्यार्थियों और शिक्षकों ने भोजन किया | सी0बी0एस0ई0 बोर्ड परीक्षा 2018 के कक्षा-10 व 12 में उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाले 6 विद्यार्थियों को प्रत्येक को 2000 रुपये तथा 3 विद्यार्थियों को प्रत्येक को 2500 रुपये परितोषिक के रूप में दिये गए | कक्षा-12 के 7 विद्यार्थियों को “नशामुक्त राष्ट्र का निर्माण” कार्यक्रम को अनेकों गाँव में आयोजित करने पर प्रत्येक विद्यार्थी को 2000 रुपये परितोषिक के रूप में दिये गए| कक्षा-9 के छात्र सूरज मण्डल को अनेकों खेलों में उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने पर 2000 रुपये परितोषिक के रूप में दिये गए| फूटबाल खेल में अनेकों विद्यालयों को हराने पर फूटबाल टीम के 11 विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया| मुख्य अतिथि ने कहा कि जीवन को आदर्श तरीके से जीने के लिए अनुशासन में रहना आवश्यक है। अनुशासन के बिना व्यक्ति पशु के समान है। विद्यार्थी का जीवन अनुशासित व्यक्ति का जीवन कहलाता है। विद्यार्थी को विद्यालय के नियमों पर चलना होता है। शिक्षक का आदेश मानना पड़ता है। ऐसा करने पर वह योग्य, चरित्रवान व आदर्श नागरिक कहलाता है। उन्होने विद्यालय द्वारा किए जा रहे प्रयासों की प्रशंसा की | कार्यक्रम का संचालन विनोदिनी (कक्षा11) व वैष्णवी (कक्षा-12 ) द्वारा किया गया|

         

      

  

Ncc cadets made aware the villagers of Pitamberpur about cleanliness

To promote the values of cleanliness, discipline and respect for environment, NCC Cadets of JIMP PIONEER SCHOOL aware the villagers of Pitamberpur Dehradun about cleanliness .Appropriately equipped with slogans, brooms and trash bags, they cleaned up the kachha road on their way. Cadets also aware about the importance of hygiene, sanitation and cleanliness.

Their effort and motive was hugely appreciated by one and all.
The whole drive was quite inspiring and motivating for the staff and students. The Cadets realized that any work is best done when it is carried out by a person himself. The day set a benchmark as the entire JIMP PIONEER SCHOOL family took a small step towards a big goal.

Jimp Pioneer School students went  to IMA for watching Passing out Parade

Jimp Pioneer School students went to IMA for watching Passing out Parade

जिम्प पायनियर स्कूल ग्राम-पीतांबरपुर,आर्केडिया-ग्रान्ट,देहरादून के कक्षा- 4 से कक्षा- 8 तक के 105 विद्यार्थियों ने भारतीय सेन्य अकादमी देहरादून की पासिंग आउट कमांडेंट परेड देखी| पासिंग आउट कमांडेंट परेड में विद्यार्थियों के साथ विद्यालय के अध्यापक श्री नित्येंदर सिंह ,श्री अनिल सिंह, व अध्यापिका श्रीमती शालिनी वर्मा आदि भी गये | इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पांडे ने बताया कि सैनिक होना बड़े गर्व और गौरव की बात होती है। वर्तमान में भी भारतीय सैनिक की वीरता और त्यागमय जीवन की श्रेष्ठता पूरा संसार मानता है। आज हम सभी को विशेषरूप से विद्यार्थियों व युवा वर्ग को सैनिकों के जीवन से शिक्षा लेनी चाहिए अपने देश के लिए कुछ करने के लिए सोचना चाहिए क्योकि वही देश के भविष्य है |

 

 

NCC cadets made patients aware at Subhrati Hospital

जिम्प पायनियर स्कूल ग्राम-पीतांबरपुर,आर्केडिया-ग्रान्ट,देहरादून  के एन0सी0सी0 केडेटों ने दिनांक 03-12-2018 को  नन्दा की चौकी प्रेमनगर देहरादून स्थित सुभारती अस्पताल में मरीजों की सेवा की व लोगों को बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ व स्वच्छ भारत अभियान के प्रति जागरूक किया | एन0सी0सी0 केडेटों के साथ केयर टेकर श्री नित्येद्र सिंह ने भी इस अभियान में भाग लिया| एन0सी0सी0 केडेटों ने निम्न विषय पर लोगों को जागरूक किया :

केडेटों ने निम्न विषय पर लोगों को जागरूक किया :

  1. बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत सामाजिक व्यवस्था में बेटियों के प्रति रूढ़िवादी मानसिकता को बदलना।
  2. बालिकाओं की शिक्षा को आगे बढ़ाना।
  3. भेदभाव पूर्ण लिंग चुनाव की प्रक्रिया का उन्मूलन कर गांव का अस्तित्व और उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करना।
  4.  घर-घर में बालिकाओं की शिक्षा को सुनिश्चित करना।
  5. लिंग आधारित भ्रूणहत्या की रोकथाम।
  6. लड़कियों की शिक्षा और उनकी भागीदारी सुनिश्चित करना।

7. भारत को स्वच्छ और हरियाली युक्त बनाना।

8.स्वच्छता के विभिन्न पहलूओं पर चर्चा, इससे संबंधित महात्मा गाँधी की शिक्षा, स्वच्छता और स्वास्थ्य विज्ञान के विषय पर चर्चा|

एन0सी0सी0 केडेटों ने बताया कि देश में बिगड़ती हुई लड़कियों की दुर्दशा  के लिए कहीं ना कहीं आप और हम भी जिम्मेदार हैं क्योंकि जब भी लड़कियों के साथ भेदभाव या फिर उनका शोषण होता है तो हम सिर्फ देखते रहते हैं उसका विरोध तक नहीं करते हैं। जिसके कारण आज यह स्थिति हमको देखने को मिल रही है। अगर लड़कियों से किसी प्रकार का भेदभाव हो रहा है और अगर हम उसे होते हुए देख रहे हैं तो हम भी उतने ही जिम्मेदार हैं जितना कि भेदभाव करने वाला इसलिए हमें लड़कियों के प्रति भेदभाव पूर्ण नीति के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए।

इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पांडे ने बताया कि ‘स्वच्छता भगवान की ओर अगला कदम है’। अगर  जनता द्वारा प्रभावी रुप से इसका अनुसरण किया गया तो आने वाले चंद वर्षों में स्वच्छ भारत अभियान से पूरा देश भगवान का निवास स्थल सा बन जाएगा।

        

 

Jimp Pioneer School Students Visited IMA

जिम्प पायनियर स्कूल ग्राम-पीतांबरपुर,आर्केडिया-ग्रान्ट,देहरादून  के कक्षा 8वीं  व नवीं की सभी छात्राओं  ने भारतीय सेन्य अकादमी देहरादून का भ्रमण किया व जेंटलमेन केडेट की  हार्स राईडिंग व मल्टी डिस्प्ले एक्टिविटी  देखी | इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पांडे ने विद्यार्थियों को बताया कि भारतीय सैनिक अजेय, अपराजित, अनुशासित, निर्भीक , राष्ट्रभक्त हैं | विपरीत परस्थितियों में भी जैसे कठोर जलवायु, गगनचुम्बी बर्फ़ीली चोटियों की हड्डी जमाने वाली सर्दी, दुर्गम घाटियाँ, घने पहाड़ी जंगल, रेगिस्तान की भयानक गर्मी एव असमान्य जल जीवन , अजेय, अपराजित, अनुशासित, निर्भीक, राष्ट्र भक्त भारतीय सैनिक की पहचान हैं ऐसे विपरीत परिस्थितियो के परिवेश में सैनिक अपना सर्वस्व न्योछावर करते हुए देश की आंतरिक और बाहरी सुरक्षा में तत्पर रहते हैं | भारतीय सैनिक कर्तव्यपरायणता, देश भक्ति एवं नैतिक मूल्यो से ओतप्रोत होते हैं जिससे विपरीत परिस्थितियो में भी आवश्यकता अनुसार रसत्र सेवा में अपना सर्वोच्च बलिदान देने के लिए तत्पर रहते हैं आप व हम सभी को एकता व बलिदान की भावना, साहस, इमानदारी , वफादारी, अनुशाशन, स्पष्टवादिता,राष्ट्र सेवा सर्वोपरि ,नैतिक मूल्य भारतीय सैनिकों से सीखनी चाहिए और राष्ट्र हित  में अपना  सम्पूर्ण बलिदान देने के लिए तत्पर रहना चाहिए |