Annual Sports Day 2019-20

जिम्प पायनियर स्कूल ,ग्राम-पीतांबरपुर,आर्केड़िया-ग्रांट, देहरादून में दिनांक 29-11-2019 को प्रातः 10 बजे विद्यालय का खेल दिवस बड़े धूमधाम से मनाया गया | कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि “श्री सुनील उनियाल गामा” जी माननीय मेयर नगर निगम देहरादून खेल मशाल जला कर की गयी | इस कार्यक्रम में कक्षा प्ले ग्रुप से कक्षा 12 तक के सभी विद्यार्थियों ने भाग लिया| मुख्य अतिथि श्री सुनील उनियाल गामा जी ने विद्यालय द्वारा खेलों के प्रति किए जा रहे प्रयासों की बहुत प्रशंसा की और बताया कि आज की भाग-दौड़ भरी एवं व्यस्तम जीवन में खेल मनुष्य के शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय ने बताया कि खेलों से विद्यार्थियों का सामाजिक, शारीरिक ,बौद्धिक रूप से विकास होता है| अतः जिम्प पायनियर स्कूल में विद्यार्थियों को उनकी रुचि के अनुसार अनेकों खेल करवाए जाते हैं| इससे पूर्व विद्यालय में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षक- शिक्षिकाओं व कर्मचारियों को माननीय मेयर द्वारा सम्मानित किया गया |
Image may contain: one or more people  Image may contain: 7 people, people standing, people on stage, crowd and outdoor  Image may contain: 12 people, people smiling  Image may contain: one or more people, people standing and outdoor

Children day Celebration

दिनांक 14-11-2019 को जिम्प पायनियर स्कूल पितांबरपुर आर्केडियाग्रान्ट,देहरादून में बाल दिवस बड़े धूमधाम से मनाया गया | कार्यक्रम का शुभारंभ पंडित जवाहरलाल नेहरू जी की तस्वीर पर माला चढ़ा कर किया गया | इस अवसर पर विदयालय की शिक्षिकाओं मिस भारती बिष्ट, श्रीमती प्रियंका नेगी , श्रीमती शगुन गुप्ता , मिस ज्योति दानु और मिस अंतरा गुसाई ने “क्यूटी पाई ………………………….”गीत में नृत्य प्रस्तुत किया | इस अवसर पर हिन्दी की शिक्षिका श्रीमती ज्योति गुप्ता ने बच्चो के लिए एक प्यारा सा गीत प्रस्तुत किया | विद्यालय की शिक्षिका मिस सुमन काला ने “इश्के दी ……………………” गीत प्रस्तुत किया | विद्यालय की शिक्षिका मिस संगीता कुमारी ने “इन पंछियों को देखकर ………………………………” गीत प्रस्तुत किया | इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय ने विद्यार्थियों को चरित्र निर्माण की ओर प्रेरित करते हुए कहा है कि प्रत्येक मनुष्य जन्म से ही दैवीय गुणों से परिपूर्ण नहीं होता है। ये गुण सत्य, निष्ठा, समर्पण, साहस एवं विश्वास से जाग्रत होते हैं। इनको अपने आचरण में लाने से व्यक्ति महान एवं चरित्रवान बन सकता है। मनुष्य को महान बनने के लिए संदेह, ईर्ष्या एवं द्वेष छोड़ना होगा| इस अवसर पर सभी विद्यार्थी व शिक्षक –शिक्षिकाएँ उपस्थित थे |
Image may contain: 17 people, people smiling, people standing and outdoor Image may contain: 1 person, standing, beard and outdoor  Image may contain: 2 people, people on stage Image may contain: 21 people, people smiling, people sitting

General knowledge competition

Dear Parent,
A General knowledge competition was organized by “PARVTIYA KALYAN SAMITI ” AT SMITH NAGAR PREM NAGAR DEHRADUN on 03-11-2019. You will be glad to know that our following students won prizes- First Prize -Aditya Bhardwaj (class-V). First Prize- Khushi Rana(class-7) Second Prize-Mohit Joshi (class-8) , Sania Negi (class-8) I extend my heartfelt congratulation all our winners and their parents.
Regards
Principal
JIMP PIONEER SCHOOL
Image may contain: 3 people, people standing Image may contain: 3 people, people standing Image may contain: 22 people, people smiling, people standing

” PLASTIC FREE INDIA ” speech competition

Dear Parent,
A speech competition about ” PLASTIC FREE INDIA ” Was organized by “PARVTIYA KALYAN SAMITI ” AT SMITH NAGAR PREM NAGAR DEHRADUN on 10-11-2019. You will be glad to know that our following students won prizes- First Prize -Anshika Thapa (class-IX). Second Prize-Monika Gusain (class-IX) Third Prize-Vinodini Pandey (class-XII). I extend my heartfelt congratulation all our winners and their parents.
Regards
Principal
JIMP PIONEER SCHOOL

S. G. MEMORIAL INTERSCHOOL COMPETITION at Jaswant Modern School

Class 1st to 8th students of Jimp Pioneer School participated in “S. G. MEMORIAL INTERSCHOOL COMPETITION “at Jaswant Modern School. In which different activities were held where the student of class 6th (Anuj Negi), Class 7th (Khushi Rana) and Class- 8th (Krish Bhatia) secured 1st position in General Quiz competition. They performed excellently and were presented with Mementos.
Image may contain: 2 people, people standing  Image may contain: 2 people, people sitting  Image may contain: 13 people, people smiling, people standing   Image may contain: 20 people, people smiling, people standing  Image may contain: 1 person, sitting, eating, table and food

Educational Trip to FRI

दिनांक 03-11-2019 को जिम्प पायनियर स्कूल के कक्षा प्ले ग्रुप से कक्षा 12 तक के विद्यार्थियों व विद्यालय के सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं ने किया वन अनुसन्धान संस्थान का शैक्षिक भ्रमण | सभी विद्यार्थियों ने वन अनुसन्धान संस्थान के सभी संग्रहालयों का भ्रमण किया | विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय ने कहा कि विद्यार्थियों के लिए शैक्षिक भ्रमण शिक्षा का एक महत्वपूर्ण अंग है,भ्रमण से जो हम सीखते हैं, उसे पुस्तकों से सीखना कठिन होता है । क्योंकि सीखने में आँख की भूमिका अन्य ज्ञानेन्द्रियों की तुलना में सबसे अधिक होती है भ्रमण हमारे किताबी ज्ञान में वृद्धि करता है । भ्रमण के सहारे इतिहास हमें वास्तविक दिखता है तथा समूचा भूगोल साकार हो उठता है । इससे अर्थशास्त्र के सिद्धान्तों की परीक्षा हो जाती है और नई चुनौतियां उभर आती हैं । समाजशास्त्र की नींव मजबूत हो जाती है । ऐतिहासिक महत्त्व के स्थानों के भ्रमण से पुस्तकों में पढ़ी धुँधली छवि प्रकाशित होकर साकार हो जाती है ।
Image may contain: 6 people, people standing Image may contain: 10 people, people smiling, people standing and outdoor

Vashudev kutumb Workshop

जिम्प पायनियर स्कूल दवारा नैतिक मूल्यों पर कार्यशाला का आयोजन किया गया।“वसुदेव कुटुंब” संस्था की सदस्य व शिक्षिका श्रीमति हरमिन्द्र मेहंदीरता व कंप्यूटर इंजीनियर श्री राजा राम ने विद्यार्थियों को बताया कि नैतिक मूल्यों व स्वच्छता का हमारे जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है | विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री जगदीश पाण्डेय ने बताया कि व्यक्ति के जीवन में नैतिक मूल्यों का बड़ा महत्त्व होता है। नैतिक शिक्षा मनुष्य के जीवन में बहुत आवश्यक है। इसका आरंभ मनुष्य के बाल्यकाल से ही हो जाता है। अपने हितों की रक्षा के साथ दूसरों के हितों, अधिकारों व दृष्टिकोण का भी ख्याल रखना चाहिए। दुनिया में शांति, अहिंसा, सहनशीलता, भाई चारे का संदेश फैलाना चाहिए। पेड़-पौधों, हरियाली, पर्यावरण की रक्षा करनी चाहिए है। सभी पशु-पक्षियों, जीव-जंतुओं के प्रति करूणा की भावना रखनी चाहिए। सब पर दया करना, कभी झूठ नहीं बोलना, बड़ों का आदर करना, सच बोलना, सबको अपने समान समझते हुए उनसे प्रेम करना, सबकी मदद करना, किसी की बुराई न करना आदि कार्य नैतिक शिक्षा या नैतिक मूल्य कहलाते हैं। बच्चों में नैतिक मूल्यों का निर्माण करने की जिम्मेदारी माता-पिता, परिवार, स्कूल समाज की है। आज के बच्चे ही कल के भविष्य हैं, अतः शिक्षा के साथ साथ नैतिक मूल्यों को जीवन में स्थान दें ।
Image may contain: one or more people, crowd and indoor